वार्तालाप # 43 – Conversation in Hindi & English between father & son (पिता और पुत्र के बीच बातचीत)

Conversation in Hindi & English between father & son (पिता और पुत्र के बीच बातचीत)…

Father: Hey Akshay! Beta, where is this smoke coming from?
पिताजी: अरे अक्षय! बेटा, यह धुआँ कहाँ से आ रहा है ?

Akshay: I don’t know papa, I have just come to the terrace. I feel it’s due to air pollution.
अक्षय: पता नहीं पापा, मैं तो अभी-अभी छत पे आया हूँ। मुझे लगता है की हवा में प्रदूषण के कारण ये धुआँ है।

Father: Why are you hiding your hands behind? Show me what you are hiding in your hands.
पिताजी: अपना हाथ पीछे क्यों छिपा रहे हो? दिखाओ मुझे क्या छिपा रहे हो हाथ में?

Akshay: Nothing papa, my back was itching.
अक्षय: कुछ नहीं पापा, वो बस पीठ में खुजली हो रही थी। 

Father: So why are you scared, show your hands?
पिताजी: तो फिर डर क्यों रहे हो, हाथ दिखाओ अपने।

Akshay brings his hands to the fore (अक्षय अपने हाथ सामने करता है)

Father: What’s this! Cigarettes! When have you started doing all this? I can’t believe my eyes!
पिताजी: ये क्या! सिगरेट!! तुम ये सब कब  से करने लग गये? मुझे तो अपनी आँखों पे विश्वास नहीं हो रहा है!

Akshay: Please forgive me, papa, I myself didn’t realize when it became an addiction.
अक्षय: मुझे माफ़ कर दीजिये पापा, मुझे खुद नहीं पता चला कब सिगरेट पीने के लत लग गई मुझे।

Father: First you tell me how long you have been smoking for? It’s good that I caught you red-handed today otherwise, I wouldn’t have come to know about it.
पिताजी: तुम पहले मुझे ये बताओ, कि तुम कितने समय से सिगरेट पी रहे हो? वो तो अच्छा हुआ मैंने आज तुम्हें रंगें हाथों पकड़ लिया, नहीं तो मुझे इस बात का कभी पता ही नहीं चलता।

Akshay: I have been smoking for the last 2 years, actually one of my friends made me smoke for the first time. Initially, I found the smoke troublesome but later on I got used to it.
अक्षय: मैं 2 साल से इसका सेवन कर रहा हूँ, दरअसल मेरे एक दोस्त ने मुझे पहली बार सिगरेट पिलाई थी। शुरू में तो मुझे इसके धुएँ से बहुत परेशानी होती थी लेकिन धीरे-धीरे इसकी आदत लग गयी।

Conversation in Hindi & English…

Father: When your friend told you to smoke then why didn’t you refuse? Don’t you know that it damages the body?
पिताजी: जब तुम्हारे दोस्त ने तुम्हें सिगरेट पीने को कहा तो तुमने मना क्यों नहीं किया? क्या तुम्हें पता नहीं की इससे शरीर की कितना नुकसान होता है?

Akshay: He told me, try it once; don’t take it after this one. I thought it’s just for once, nothing will happen.
अक्षय: उसने मुझे बोला, कि तू बस एक बार ट्राई कर के देख; इसके बाद मत लेना । मैंने सोचा की एक बार की तो बात है, एक बार पीने से क्या फरक पड़ेगा।

Father: Here’s where you committed a mistake, you should take your decisions carefully. Do you have an idea, you can even suffer from a fatal disease like cancer due to this?
पिताजी: यही तो तुमने गलती कर दी, तुम्हें अपना हर कदम समझदारी से लेना होगा। तुम्हें पता है की इससे तुम्हें कैंसर जैसे जानलेवा बीमारी भी हो सकती है?

Akshay: I know it papa, but I can’t get over my addiction; I have tried so many times to quit smoking. Whenever I stop smoking for 2-3 days I have a strong craving for it.
अक्षय: मुझे पता है पापा लेकिन मेरी ये आदत जाती ही नहीं, मैंने कितनी कोशिश की है की सिगरेट पीना छोर दूँ। जब भी दो तीन दिन नहीं पीता तो तब बहुत तलब लगती है।

Conversation in Hindi & English…

Father: Son, this is a result of your company. You live in the company of bad boys then you will follow the wrong path only. Meet good people, be friends with them, and redeem your life.
पिताजी: बेटा ये सब तुम्हारी संगत का असर है | तुम बुरे दोस्तों की संगत में रहोगे तो गलत रास्ते पर ही जाओगे। अच्छे लोगों से मिलो , दोस्ती करो और अपने जीवन का उद्धार करो।

Akshay: Yes, papa, I promise you that I will never touch a cigarette again. I’ll be with good people and will never disappoint you.
अक्षय: जी पापा, मैं आपसे वादा करता हूँ की मैं अब से सिगरेट को हाथ भी नहीं लगाऊंगा। अच्छे लोगों के साथ रहूँगा और आपको कभी भी निराश नहीं करूँगा।

सभी वार्तालाप (All Conversations) यहाँ पढ़ेCLICK HERE

MUST-READ (ज़रूर पढ़े)

TENSES | VERBS | TRANSLATIONS | DAILY USE SENTENCESVOCABULARY | PRONUNCIATION | PHRASAL VERBS | TIPS n TRICKS | INTERVIEW Q&A | PUNCTUATION MARKS | ACTIVE PASSIVE | DIRECT INDIRECT | PARTS OF SPEECH | SPEAKING PRACTICE | LISTENING PRACTICE | WRITING PRACTICE | ESSAYS | SPEECHES

OTHER LINKS

eBooks (10M+)YouTube (4.2M+) | Android App (3.2M+) | Books (1.5M+) | Facebook (700K+) | Instagram (85K+) | Likee (3M+) | Tiktok (250K+) | MY BLOGGING COURSE

अगर आपको ये वार्तालाप (Conversation in Hindi & English) पसन्द आयी हो, तो इसे अपने दोस्तों के साथ WhatsApp, Facebook आदि पर शेयर जरूर करिएगा। आपके प्यार सहयोग के लिए बहुत-2 धन्यवाद। Thank you! – Aditya sir

3 thoughts on “वार्तालाप # 43 – Conversation in Hindi & English between father & son (पिता और पुत्र के बीच बातचीत)”

  1. Aditya sir you are very genious i always follow you and i want to speak english like you please guide me what should i do for it?

    1. Sir u r genious .Pls tell me sir how can I improve my english . what I do in daily basis sir to improve my english I want to speak english as like u sir so please guide me sir. I want ur ebook but it shows payment failed .pls sir guide me contact me sir

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *