English Speaking Course Day 7

English Speaking Course Day 7 में आज हम सीखेंगे Singular & Plural के बारे में और साथ ही English Grammar की कुछ छोटी- छोटी बातें और Basic जानकारियाँ।

Sentence = Subject + Verb + Objective Part. /  Sentence = Subject + Predicate.
{Predicate = Verb + Objective Part.}

Subject Subject वो होता है जिसके बारे में sentence में या तो सिर्फ उसकी अवस्था, उसके गुण आदि के बारे बताया हुआ होता है या फिर Subject वो होता है जो sentence में किसी काम को करता हुआ बताया जाता है।
Verb Verb वह होती है जिसके माध्यम से Subject के द्वारा किये जाने वाले कार्य या Subject की अवस्था(State) के बारे में जानकारी मिलती है। Verbs के प्रकारों में एक प्रकार है – Auxiliary verbs जैसे कि is, am, are, was, were, has, have, had, will आदि। Auxiliary verbs ये बताती हैं कि Subject के द्वारा किये जाने वाले कार्य या Subject की अवस्था(State) किस समय में है – Present में, Past में या Future में।

Objective part Verb के बाद जो भी आता है वह Objective part होता है।

Spoken English Guru English Speaking Course Kit

Noun किसी भी व्यक्ति, किसी भी स्थान, या किसी भी वस्तु का नाम Noun कहलाता है। Noun दो प्रकार के होते हैंः
Singular जब Subject किसी एक व्यक्ति, एक वस्तु या एक स्थान के बारे में बोध कराये। Example: Pankaj, Father, Pen, Men, Woman.
Plural  जब Subject एक से ज़्यादा व्यक्ति, एक से ज़्यादा वस्तु या एक से ज़्यादा स्थान के बारे में बोध कराये। Example – Pankaj and Rajesh, Parents, Pens, Man, Women

Pronoun  Pronoun वो होता है जो Noun की जगह पर प्रयोग किया जाता है। Example: I, We, You, He, She, This, That, it, They, These, Those.

रवि मेरा दोस्त है। वो मेरी मदद करता है।
Ravi is my friend. He helps me.
(बार – बार रवि कहने के बजाय हमने “वो” शब्द का प्रयोग किया है। यहाँ पर “वो (He)” एक Pronoun है।)

अब नीचे दी गयी दोनों tables को देखिए। वीडियो में बारीकी से समझाया गया है।

Singular & Plural

Person Singular Plural
1st Person I We
2nd Person You
3rd Person He, She, This, That, It, Singular Noun, Singular Pronoun They, These, Those, Plural Noun, Plural Pronoun

Auxiliary verbs

Auxiliary Verbs Present Past Future
Be (होना) Is (3S) / Am (I) /Are (R) Was(S) / Were (P) Will be (All)
Do (करना) Do/Does (3S) Did (All) Will do (All)
Have (पास होना, कर चुका होना) Has (3S) / Have (R) Had (All) Will have (All)

Please note:
3S means “3rd person singular subject”
R means “Rest all subject types”
S means “Singular”
P means “Plural”
All means “All the subject types”

इस मतलब ये हुआ कि

Is का प्रयोग होता है –  3rd Person singular के साथ (He, She, This, That, It, Singular Noun, Singular Pronoun)
Am का प्रयोग होता है –  1st Person singular के साथ (I)
Are का प्रयोग होता है –  सभी Plural के साथ (We, You, They, These, Those, Plural Noun, Plural Pronoun)

Was का प्रयोग होता है – सभी Singular के साथ (I, He, She, This, That, It, Singular Noun, Singular Pronoun)
Were का प्रयोग होता है –  सभी Plural के साथ (We, You, They, These, Those, Plural Noun, Plural Pronoun)

Does का प्रयोग होता है –  3rd Person singular के साथ (He, She, This, That, It, Singular Noun, Singular Pronoun)
Do का प्रयोग होता है –  3rd Person singular के अलावा सभी के साथ (I, We, You, They, These, Those, Plural Noun, Plural Pronoun)

Has का प्रयोग होता है –  3rd Person singular के साथ (He, She, This, That, It, Singular Noun, Singular Pronoun)
Have का प्रयोग होता है –  3rd Person singular के अलावा सभी के साथ (I, We, You, They, These, Those, Plural Noun, Plural Pronoun)

Did का प्रयोग होता है –  Singular और Plural दोनों के साथ
Had का प्रयोग होता है – Singular और Plural दोनों के साथ
Will be का प्रयोग होता है – Singular और Plural दोनों के साथ
Will do का प्रयोग होता है – Singular और Plural दोनों के साथ
Will have का प्रयोग होता है – Singular और Plural दोनों के साथ

This / That / These / Those

Singular (एक) Plural (एक से ज़्यादा)
Near (पास) This These
Far (दूर) That Those

This – जब पास हो और एक हो
That – जब दूर हो और एक हो
These – जब पास हो और एक से ज़्यादा हो
Those – जब दूर हो और एक से ज़्यादा हो

Example :
ये एक पैन है।
This is a pen.

वो एक पैन है।
That is a pen.

ये पैन हैं।
These are pens.

वो पैन हैं।
Those are pens.

Noun और Pronoun के अलावा Subject में Gerund और Infinitives का भी महत्व है। 

Gerund – जब भी Subject में कोई क्रिया आती है तो या तो उस क्रिया के साथ “ing” लगाकर उसे Noun बनाना पड़ता है या फिर उस क्रिया से पहले “to” लगाकर उसे Noun बनाना पड़ता है। अगर “ing” लगाया तो क्रिया के उस रूप को Gerund कहते हैं और अगर “to” लगाया तो क्रिया के उस रूप को Infinitive कहते हैं।
Gerund=Verb+ing
Infinitive= to+Verb

Examples-
पढ़ना उसकी आदत है। (Padhna uski aadat hai.)

Reading is his habit. /
To read is his habit.

बिना समझे पढ़ना खराब आदत है। (Bina samajhe padhna kharab aadat hai.)
Reading without understanding is a bad habit. /
To read without understanding is a bad habit.

गाना गाना एक अद्भुत गतिविधि है। (Gaana gana ek adhbut gatividhi hai.)
Singing is an amazing activity./
To sing is an amazing activity.

लोगों को मनाना आपके बस की बात नहीं है। (Logon ko manana aapke bas ki baat nahi hai.)
Convincing people is not your cup of tea./
To convince people is not your cup of tea.

बहुत ज़्यादा उम्मीद करना आपको निराश कर सकता है। (Bahut zyada ummeed karna aapko nirash kar sakta hai.)
Expecting too much can disappoint you./
To expect too much can disappoint you.

Types of Verbs

Main Verbs (मुख्य क्रियाएँ) Main Verbs अक्सर उन्हें कहते हैं जो किसी न किसी कार्य की जानकारी देते हैं जैसे – Think (सोचना), Miss(याद करना), Play(खेलना), Eat(खाना), Drink(पीना),Teach(पढ़ाना), etc….किसी भी तरह का काम चाहे वो शारीरिक हो या मानसिक। हालाँकि ये भी ध्यान रहे कि जिन वाक्यों में इस तरह की शारीरिक या मानसिक तरह से होने वाली क्रियाएँ नहीं होती हैं यानि कि ऐसे sentences जिनमें इस तरह की कोई भी क्रिया नहीं होती, उन sentences में Auxiliary verbs को ही मुख्य क्रिया (main verb) कहा जाता है।

Auxiliary Verb (सहायक क्रियाएँ) Auxiliary Verbs मुख्यतः वो होती हैं, जो Sentence में Subject की अवस्था (State) के बारे में बताती हैं। इन क्रियाओं की मदद से हम जान पाते हैं कि Subject किस time पर किसी अवस्था में है या कोई कार्य कर रहा है – Present में, Past में या Future में
Auxiliary Verb तीन तरह की होती है – Be, Do और Have

Auxiliary verbs

Auxiliary Verbs Present Past Future
Be (होना) Is (3S) / Am (I) /Are (R) Was(S) / Were (P) Will be (All)
Do (करना) Do/Does (3S) Did (All) Will do (All)
Have (पास होना, कर चुका होना) Has (3S) / Have (R) Had (All) Will have (All)

Please note:
3S means “3rd person singular subject”
R means “Rest all subject types”
S means “Singular”
P means “Plural”
All means “All the subject types”

Modal Auxiliary Verbs  Modals ऐसी सहायक क्रियाएँ होती हैं जिनका प्रयोग वाक्य में मुख्य क्रिया के साथ किया जाता है। इसको अलग चैप्टर में विस्तार से समझेंगे।
Example- Can, Could, Should, Would, Must, May, Might, Shall, etc.

Semi – modal Verbs Semi– modal Verbs वो Modal Verbs होती है जो कभी तो Modal Verbs की तरह काम करती है, और कभी sentence की Main Verbs  की तरह काम करती है। इसको अलग चैप्टर में विस्तार से समझेंगे।
Example- Used to, Dare, Need.
Spoken English Guru English Speaking Course Kit

90 Days इंग्लिश स्पीकिग कोर्स किट (Offline): CLICK HERE
90 Days इंग्लिश स्पीकिग कोर्स (Online): CLICK HERE
सभी Books की PDF eBooks का सैट:
CLICK HERE
6 months ऑनलाइन ब्लॉगिंग कोर्स: CLICK HERE
6 months ऑनलाइन कम्प्यूटर कोर्स:
CLICK HERE
YouTube: CLICK HERE

Facebook: CLICK HERE
Instagram: CLICK HERE
Android App: CLICK HERE

अगर आपको ये आर्टिकल (English Speaking Course Day 7) पसन्द आया हो, तो इसे अपने दोस्तों के साथ WhatsApp, Facebook आदि पर शेयर जरूर करिएगा। Thank you! – Aditya sir

2 thoughts on “English Speaking Course Day 7”

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *